Union Minister Vk Singh Tweets On Air Strike Against Pakistan Updates | वीके सिंह का ट्वीट- रात 3.30 बजे मच्छर बहुत थे, मैंने हिट मारा; अब गिनती करूं या सो जाऊं

0
2


  • सिंह ने कहा- अगली बार जब भारत कोई कार्रवाई करे तो सवाल उठाने वाले विपक्षी नेताओं को प्लेन के नीचे बांध के ले जाएं
  • ‘जब बम गिराया जाएगा तो उन्हें वहीं से टारगेट दिख जाएगा’

नई दिल्ली. एयर स्ट्राइक के दौरान पाक सीमा में मारे गए आतंकियों की संख्या पर विपक्ष सवाल उठा रहा है। इस पर विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने बुधवार को ट्वीट किया कि रात 3.30 बजे मच्छर बहुत थे, तो मैंने हिट मारा। अब मच्छर कितने मारे, ये गिनने बैठूं या आराम से सो जाऊं। इससे पहले मंगलवार को सिंह ने कहा था कि एयर स्ट्राइक में हमारी तरफ से 250 मौतों की बात कही जा रही है, वे सिर्फ बालाकोट में ही मारे गए। इसमें कहीं और के आंकड़े शामिल नहीं हैं। अमित शाह ने एयर स्ट्राइक में 250 से ज्यादा आतंकियो के मारे जाने का दावा किया था।

‘विपक्षी नेताओं को प्लेन के नीचे बांध के ले जाएं’

  1. सिंह ने यह भी कहा, “अगली बार जब भारत कोई कार्रवाई करे तो जो विपक्षी नेता प्रश्न उठाते हैं, उन्हें हवाई जहाज के नीचे बांध के ले जाएं। जब बम गिराया जाएगा तो उन्हें वहीं से टारगेट दिख जाएगा। इसके बाद उनको वहीं पर उतार दें। वे लोग टारगेट की जगहों को गिन लें और वापस आ जाएं।”

  2. सिंह ने अपने ट्वीट पर कहा, “क्या आप मारे गए आतंकियों को गिन सकते हैं? बमों ने इमारतों को निशाना बनाया। क्या 1000 किलो बमों के धमाके से मौतें नहीं होंगी? अगर मौतें हुईं तो आप उसका अनुमान लगा सकते हैं। मुझे नहीं पता कि कौन इसकी गिनती कर सकता है। इस तरह की बातें करना दुर्भाग्यशाली है।”


  3. पुलवामा हमला दुर्घटना है: दिग्विजय

    दिग्विजय सिंह ने पुलवामा हमले को ‘दुर्घटना’ बताया। उन्होंने ट्वीट किया, ”एयर स्ट्राइक पर विदेशी मीडिया में संदेह पैदा किया जा रहा है, जिससे हमारी सरकार की विश्वसनीयता पर प्रश्न चिह्न लग रहा है।” इससे पहले दिग्विजय ने कहा था कि तकनीक के दौर में किसी कार्रवाई की तस्वीरें सैटेलाइट से मिल सकती हैं। लिहाजा सरकार को सबूत देना चाहिए। अमेरिका ने लादेन को मारने का सबूत पेश किया था।

  4. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार को कहा, पुलवामा हमले में आतंकवादियों ने हमारे जवानों की नृशंस हत्या की। दिग्विजय आतंकी हमले को घटना बता रहे हैं, उनसे आप क्या उम्मीद करेंगे। ये वही हैं, जो जाकिर नाइक को मानवता की मूर्ति बताते हैं। ये वही हैं जो ओसामाजी और हाफिज सईद साहब कहते हैं।

  5. प्रसाद ने कहा, ”राजनीति करने वालों को इतनी भी तमीज नहीं है कि जवानों की हत्या पर इस तरह से बयान न दें। दिल्ली में बाटला हाउस में दिल्ली के जवान मोहन शर्मा को मारा गया था। दिग्विजय आजमगढ़ गए थे और कहा था कि आतंकवादियों को सिर में गोली लगी थी। कांग्रेस के 10 साल मुख्यमंत्री रहे हैं, वह इस तरह के सवाल कर रहे हैं तो क्या कहा जाए?”





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here