the oval cricket stadium : maharaj of vijaynagar to virat kohli-‘द ओवल, लंदन’ : महाराज ऑफ विजयनगर से लेकर विराट कोहली तक

0
4


ICC World Cup : ‘द ओवल’... महाराज ऑफ विजयनगर से लेकर विराट कोहली तक

विराट कोहली के प्रदर्शन पर होगी निगाहें. (फोटो-AP/Aijaz Rahi)

News18Hindi

Updated: June 8, 2019, 4:11 PM IST

-पंकज तोमर

ICC Cricket World Cup-2019 में भारत का दूसरा मुकाबला ऐतिहासिक मैदान ‘द ओवल’ पर गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होगा. यह मैच नौ जून रविवार को होगा. ओवल मैदान पर भारत ने सबसे पहला मैच 1936 में खेला था. यह भारत का दूसरा इंग्लैंड दौरा था और टीम इंडिया की कमान महाराज ऑफ विजयनगर के हाथों में थी.

इस दौरे पर भारत पहला मैच 9 विकेट से हार गया था. इसके बाद तो मानों हार की झड़ी लग गई. 82 साल हो गए, टीम इंडिया यहां कुल 12 बार खेलने आई, जिसमें सिर्फ एक बार जीती. भारत ने ओवल पर इकलौता मैच 1971 में जीता था, तब टीम इंडिया की कमान अजीत वाडेकर के हाथों में थी. भारत ने वो मैच 4 विकेट से अपने नाम किया था. इस जीत के हीरो चंद्रशेखर थे जिन्होंने मैच में 10 विकेट लेकर टीम को जीत दिलाई.

गावस्कर-चेतन चौहान ने जोड़े 213 रन1979 में इसी मैदान पर सुनील गावस्कर और चेतन चौहान ने पहले विकेट के लिए 213 रनों की साझेदारी की थी. चौथी पारी में यह किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है. इस मैदान की सबसे बड़ी पहचान गैस होल्डर है. आप पुराने black & white के ज़माने का फ़ुटेज भी देखेंगे तो आपको मैदान के पीछे एक गैस चैंबर दिखेगा. दरअसल, यह 1953 में बना एक गोलाकर गैस होल्डर स्टेशन है जो बिल्कुल ओवल के पीछे है. आज तक का इतिहास है कि बॉल कभी भी इस चैंबर तक नही पहुंची. महाराज ऑफ विजयनगर से लेकर अब विराट कोहली इस मैदान पर कदम रख रहे हैं. देखना दिलचस्प होगा कि क्या विराट एंड कंपनी इस मैदान पर इतिहास रच सकेगी या नहीं.

(फोटो-पंकज तोमर)

174 साल पुराना है स्टेडियम

यह स्टेडियम साल 1845 में बना था. लाॅर्ड्स व ट्रेंटब्रिज के बाद यह इंग्लैंड का तीसरा सबसे पुराना स्टेडियम है. इसकी दर्शक क्षमता 25,300 है. इस वर्ल्ड कप में इस मैदान पर 5 मुकाबले खेले जाएंगे. ओवल सरे काउंटी क्रिकेट क्लब का घरेलू मैदान है. विगत में यह केनिंगटन ओवल के नाम से जाना जाता था लेकिन बाद में ओवल के ऑपरेटर सरे काउंटी क्लब ने स्पॉन्सरशिप की शुरुआत की तो स्टेडियम का नाम ‘फोस्टर ओवल’, ‘एएमपी ओवल’, ‘ब्रिट ओवल’ होते हुए वर्तमान में ‘किआ ओवल’ हो गया.

क्रिकेट ही नहीं, पहला इंटरनेशनल फुटबॉल मैच भी यहीं हुआ

द ओवल केनिंगटन में स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैदान है. ‘ओवल विश्व में मेलबोर्न क्रिकेट मैदान के बाद टेस्ट क्रिकेट की मेजबानी करने वाला दूसरा मैदान बना. यहां पहला टेस्ट 1880 में इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच हुआ. प्रथम एकदिवसीय मैच 1973 में इंग्लैंड-वेस्टइंडीज के बीच हुआ. यह मैदान 1975, 1979, 1983 व 1999 विश्वकप का भी गवाह रहा है. लॉर्ड्स, MCG, SCG के बाद यह चौथा मैदान है, जहां सौ टेस्ट मैच खेले गए हैं. इसके अलावा, 1870 में पहला इंटरनेशनल फुटबाॅल मैच भी इसी मैदान पर हुआ, जो इंग्लैंड व स्कॉटलैंड के बीच था.

(लेखक पंकज तोमर न्यूज18 के कैमरामैन हैं. वह 15 साल में कई बार ‘द ओवल’ मैदान पर मैच कवर कर चुके हैं)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here