National News

Priyanka’s wedding photo rights sold in 17.5 crore | कोई शादी के फोटो नहीं ले, इसलिए ड्रोन ध्वस्त करने इजराइल से शूटर्स बुलाए; मेहमानों से लिए शपथ-पत्र


  • ‘निकयंका’ की जोधपुर में हाई सिक्योरिटी मैरिज, क्रिश्चियन रिवाज से विवाह बंधन में बंधे, आज हिंदू रीति से फेरे
  • रीति-रिवाज निक के पिता और पादरी रहे पॉल केविन जोनस ने पूरे कराए, 17.5 करोड़ रु में बेचे हैं फोटो के अधिकार

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2018, 01:15 AM IST

मनोज कुमार पुरोहित (जोधपुर). जोधपुर के उम्मेद भवन पैलेस में शनिवार को अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस ने क्रिश्चियन रिवाज से शादी की। न्यूयार्क के डिजाइनर रॉल्फ लॉरेन के डिजाइन किए गए व्हाइट गाउन में सजी प्रियंका निक का हाथ थामे पहुंचीं। कपल ने एक-दूसरे को स्विट्जरलैंड के ज्वैलर चोपर्ड के डिजाइनर वेडिंग बैंड्स पहनाए और साथ निभाने की कसमें लीं। शादी के रीति-रिवाज निक के पिता और पादरी रहे पॉल केविन जोनस ने पूरे कराए।

 

रविवार को दोनों की हिंदू रीति-रिवाज से शादी होगी। इस हाईप्रोफाइल शादी के फोटोग्राफ के राइट्स करीब ढाई मिलियन डॉलर (करीब 17.5 करोड़ रु.) एक मैग्जीन को बेचे गए हैं। जिसके नाम का खुलासा अभी नहीं हो पाया है। शादी के फोटो या जानकारी बाहर नहीं जाए, इसलिए मैग्जीन ने उम्मेद भवन पैलेस की किलाबंदी की। कोई ड्रोन से फोटो न ले, इसलिए इजराइल से 12 शूटर्स बुलाए गए। ये ड्रोन दिखते ही उसे शूट कर गिरा देते। मेहमानों तक से 500 रुपए के स्टाम्प पेपर पर साइन कराए गए कि वे शादी के फोटो या जानकारी किसी से शेयर नहीं करेंगे।

 

मेहंदी रस्म से पहले लग गई थी प्रियंका के पैर में चोट, बुलाना पड़ा डॉक्टर : शुक्रवार को मेहंदी की रस्म से पहले प्रियंका चोपड़ा के पैर में चोट लग गई थीं। खून भी निकला। डॉक्टर को बुलाया गया। प्रियंका के रूम की वुडन फ्लोरिंग है। शादी के लिए डेकोरेशन के कारण वहां कारपेंटर भी काम कर रहे थे। ऐसे में प्रियंका के पैर में कुछ चुभ गया था। डॉक्टर ने उन्हें पेनकिलर इंजेक्शन लगाया और पैर पर पट्टी बांधी। प्रियंका ने जब पैरों पर मेहंदी लगवाई तो उनके पैर पर पट्टी बंधी थी। पट्टी लगे होने के बावजूद प्रियंका ने पैर पर खास मेहंदी डिजाइन बनवाया था।

 

4 को दिल्ली में रिसेप्शन

  • दीपिका-रणवीर की शादी का इवेंट कराने वाली कंपनी संभाल रही जिम्मेदारी
  • प्रियंका ने कुंदन की जूलरी जोधपुर में डिजाइन कराई है। 
  • 4 दिसंबर को दिल्ली में रिसेप्शन। मुंबई के रिसेप्शन की डेट सामने नहीं आई है।

 

उम्मेद भवन की किलाबंदी

 

अमेरिका से भी 100 गाड‌्र्स बुलाए: उम्मेद भवन के अंदर भी सिक्योरिटी के भारी इंतजाम थे। निक की तरफ से अमेरिका की एक सिक्योरिटी कंपनी से 100 गार्ड्स बुलाए गए। इनके अलावा हरियाणा की एक कंपनी को भी सुरक्षा का जिम्मा दिया गया है। कुछ फोटोग्राफर्स सर्किट हाउस के पास बनी ऊंची इमारतों से फोटो लेने के लिए पहुंचे, लेकिन वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें ऊपर जाने से रोक दिया। रातानाडा गणेश मंदिर की पहाड़ी के पास बनी पानी की टंकी पर भी गार्ड्स तैनात किए गए।

 

वेंडर्स को बार कोडिंग पास से ही प्रवेश: इवेंट कंपनी की ओर से वेंडर्स को दिए गए आई कार्ड पर बारकोड रखे गए। बारकोड स्कैन कर ही वेंडर्स को अंदर भेजा गया। उन्हें प्रवेश से पहले अपने मोबाइल फोन भी गेट पर ही जमा करवाने को कहा गया।

 

स्मार्ट फोन लिए, की-पैड दिए: शादी का जिम्मा देख रही इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ने उम्मेद भवन पैलेस के अधिकांश स्टाफ को आयोजन स्थल से दूर ही रखा है। जो कर्मचारी व्यवस्थाओं में लगे थे, उनसे उनके स्मार्ट फोन लेकर सामान्य की-पैड वाले फोन दे दिए गए। कर्मचारियों पर गार्ड निगाहें जमाए हुए थे।



Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.