National News

Private marshal will be posted on railway station | टिकट चेक करेंगे निजी मार्शल; पार्किंग-खानपान का ठेका भी निजी कंपनियों को मिलेगा


  • बेंगलुरु के बाद अब इसी महीने पुणे, सिकंदराबाद, चंडीगढ़ और आनंद विहार स्टेशनों को निजी हाथों में सौंपेगा रेलवे
  • रेलवे के मुताबिक, मार्शलों की तैनाती से बिना टिकट यात्रियाें के स्टेशन में प्रवेश पर अंकुश लगेगा
  • निजी कंपनी को प्लेटफॉर्म टिकट और पार्किंग की दर तय करने का अधिकार होगा

नई दिल्ली. रेलवे बेंगलुरु के बाद अब चार और स्टेशनों पर यात्री सुविधाओंं को निजी हाथों में सौंपने की तैयारी कर रहा है। दिल्ली के आनंद विहार रेलवे स्टेशन समेत चार स्टेशनों पर पार्किंग, प्लेटफॉर्म टिकट, खानपान सेवाएं, विज्ञापन, साफ सफाई, प्रतीक्षालय, विश्रामगृह का प्रबंधन इसी माह से निजी कंपनियों को दिया जाएगा।

5 फरवरी को निजी कंपनियों को दिया गया केएसआर बेंगलुरु

  1. रेलवे बोर्ड के सदस्य विश्वेश चौबे और भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम लिमिटेड (आईआरएसडीसी) के अध्यक्ष एस के लोहिया ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रेलवे स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं काे बेहतर बनाने के लिए पहली बार ‘इंटीग्रेटेड फैसिलिटी मैनेजमेंट’ शुरू किया गया।

  2. अफसरों के मुताबिक, बेंगलुरु के बाद अब पुणे, सिकंदराबाद, चंडीगढ़ और आनंद विहार स्टेशनों पर गैर परिचालन कार्यों और सुविधाओं को निजी कंपनियों में दिया जा रहा है।

  3. उन्होंने बताया कि इसी महीने से इन चारों स्टेशनों को निजी ठेकेदारों को दिए जा रहा है। उन्होंने कहा कि केएसआर बेंगलुरु को पांच फरवरी को एक निजी कंपनी काे सौंपा गया। इसी तरह 15 फरवरी को आनंद विहार स्टेशन को भी एक दूसरी निजी कंपनी को सौंपा जाएगा।

  4. रेलवे अफसरों ने बताया कि आगे अन्य स्टेशनों खासकर ए और ए1 श्रेणी के तहत आने वाले स्टेशनों को भी इसी योजना के तहत लाया जाएगा। निजी कंपनी को प्लेटफॉर्म टिकट और पार्किंग की दर तय करने का अधिकार होगा। टिकट की जांच के लिए वह मार्शलों की तैनाती करेगी। मार्शल एक प्रकार के निजी गार्ड होंगे।

  5. अफसरों के मुताबिक, इससे बिना टिकट यात्रियाें के स्टेशन में प्रवेश पर अंकुश लगेगा। अधिकारियों के अनुसार ये मार्शल उसी प्रकार से स्टेशन परिसर के गेट पर तैनात रहेंगे जैसे हवाईअड्डों पर केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवान होते हैं। उन्होंने बताया कि ये मार्शल आरपीएफ के साथ मिलकर सुरक्षा संबंधी काम भी करेंगे।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.