National News

Parrikar writes to Rahul Gandhi- you have used this visit for your petty political gains | डील पर बात नहीं हुई, मुलाकात का इस्तेमाल राहुल ने तुच्छ राजनीति के लिए किया: पर्रिकर


  • राहुल ने दावा किया था- पर्रिकर ने मुलाकात में राफेल डील पर बात की
  • पर्रिकर ने कहा- 5 मिनट की मीटिंग में राफेल डील पर किसी ने कोई बात नहीं की

पणजी. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के दौरान राफेल डील पर कोई बातचीत नहीं हुई। पर्रिकर ने कहा कि राहुल ने इस मुलाकात का इस्तेमाल तुच्छ राजनीति के लिए किया है। राहुल ने आज दावा किया था कि पर्रिकर ने मुलाकात में डील के बारे में बात की थी और कहा था कि डील बदलने की जानकारी प्रधानमंत्री ने रक्षा मंत्री से बातचीत नहीं की थी।

 

पर्रिकर ने राहुल को खत लिखा

 

  • पर्रिकर ने राहुल को खत लिखा- 29 जनवरी को आप बिना पूर्व जानकारी के लिए मेरा हालचाल लेने के लिए आए। हमारे देश में स्वस्थ राजनीतिक संस्कृति है। हम अपने विरोधियों का भी बीमारी की स्थिति में हालचाल लेते हैं और उनके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हैं। इसी भावना के चलते मैंने आपसे मुलाकात का स्वागत किया और आपके इस दयालु व्यवहार की प्रशंसा की। 
  • पर्रिकर ने आगे लिखा- हालांकि, आपकी मेरे दफ्तर में हुई मुलाकात को लेकर आ रही मीडिया रिपोर्ट्स ने मुझे परेशान कर दिया है। मीडिया में आपके हवाले से यह रिपोर्ट आ रही है कि राफेल हासिल करने में मेरा कोई रोल नहीं था और इस बारे में मुझे जानकारी नहीं थी। 
  • “मैं हारा हुआ महसूस कर रहा हूं, क्योंकि आपने इस मुलाकात का इस्तेमाल तुच्छ राजनीतिक फायदे के लिए किया। आपने मुझसे 5 मिनट तक मुलाकात की। इस दौरान ना तो आपने राफेल के बारे में मुझसे कुछ पूछा और ना ही हमने इससे जुड़ी कोई और बातचीत की। राफेल के बारे में हमारी मुलाकात के दौरान कुछ भी नहीं कहा गया।’
  • “शिष्टाचार के तहत मुलाकात के लिए आना और तुच्छ राजनीतिक फायदे के लिए झूठे बयान देना मेरे मन में आपको लेकर सवाल पैदा करता है। इससे आपकी गंभीरता और मुलाकात के मकसद को लेकर सवाल उठता है। मैं जीवन के लिए खतरा साबित होने वाली बीमारी से लड़ रहा हूं। अपनी ट्रेनिंग और मनोबल के चलते मैं हर मुश्किल के बावजूद गोवा के लोगों की सेवा करूंगा।’
  • “मुझे लगा था कि मुलाकात के दौरान आपकी शुभकामनाएं मेरे इस मकसद में मददगार होंगी, लेकिन मैं यह नहीं जानता था कि आपके इरादे कुछ और हैं। गहरी निराशा के साथ मैं आपको यह पत्र लिख रहा हूं। मैं उम्मीद करता हूं कि आप सच सामने रखेंगे। कृपया किसी बीमार व्यक्ति से मुलाकात का इस्तेमाल अपने राजनीतिक मौकापरस्ती को पूरा करने के लिए ना करें।’

पर्रिकर ने कहा- पूरे जोश में हूं और होश में भी

पर्रिकर ने गोवा विधानसभा में कहा- मैं आज फिर वादा करता हूं कि मैं गोवा की पूरी ईमानदारी, समर्पण के साथ आखिरी सांस तक सेवा करूंगा। मैं पूरे जोश में हूं और यह बहुत ज्यादा है। मैं पूरी तरह होश में भी हूं।

 

 

 

राहुल ने किया था दावा- पर्रिकर को नहीं थी डील की जानकारी

राहुल गांधी ने बुधवार को दिल्ली में कहा- मैंने कल पर्रिकरजी से मुलाकात की थी। उन्होंने मुझसे खुद कहा था कि डील बदलते वक्त हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री ने भारत के रक्षा मंत्री से नहीं पूछा था। एक तरफ पर्रिकरजी मीटिंग में कहते हैं कि मेरे पास राफेल की फाइल पड़ी हुई है, मुझे गोवा से कोई नहीं निकाल सकता। उनका मंत्री जर्नलिस्ट से टेलिफोन पर बातचीत करता है। मोदीजी पर्रिकर को खुश करने की कोशिश करते हैं।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.