MS Dhoni gloves controversy sunil gavaskar hits back on world cup boycott call

0
4


धोनी और वर्ल्‍ड कप का बायकॉट करने वालों पर भड़के सुनील गावस्‍कर, दिया करारा जवाब

एमएस धोनी. (File Photo)

News18Hindi

Updated: June 8, 2019, 4:14 PM IST

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी के सेना के निशान वाले ग्‍लव्‍स पर शुक्रवार को काफी हंगामा हुआ. धोनी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में जो ग्‍लव्‍स पहने थे उन पर भारतीय सेना की पैरा स्‍पेशल फोर्सेज का ‘बलिदान’ निशान बना हुआ था. आईसीसी ने बीसीसीआई से इन्‍हें हटवाने को कहा था. हालांकि बीसीसीआई ने कहा था कि इनके बारे में पहले ही जानकारी दे दी गई थी. बी

सीसीआई प्रशासक समिति के प्रमुख विनोद राय ने कहा था कि धोनी ने कोई नियम नहीं तोड़ा है और वे अपने ग्‍लव्‍स नहीं बदलेंगे. इस बारे में आईसीसी को जानकारी दे दी गई है. लेकिन शुक्रवार देर रात आईसीसी ने साफ कर दिया कि वर्ल्‍ड कप में धोनी ‘बलिदान’ ग्‍लव्‍स नहीं पहन सकते. उन्‍हें वह निशान ग्‍लव्‍स से हटाना होगा. बताया जाता है धोनी ने आईसीसी के नियम मानने की हामी भर दी है.

नियमों का पालन हो: गावस्‍कर
ग्‍लव्‍स विवाद के दौरान कई तरह की प्रतिक्रियाएं देखने को मिली. कई लोगों ने तो ‘बलिदान’ चिन्‍ह न हटाने और वर्ल्‍ड कप का बहिष्‍कार करने तक की बात कह दी. कई लोगों ने कहा कि धोनी को आईसीसी के नियमों का पालन करना चाहिए. इन सबके बीच दिग्‍गज क्रिकेटर सुनील गावस्‍कर ने इस मामले में कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्‍होंने एक टीवी चैनल से बात करते हुए वर्ल्‍ड कप के बहिष्‍कार की सलाह देने वालों को करारा जवाब दिया. उन्‍होंने कहा कि नियमों का पालन करना चाहिए.

ms dhoni gloves controversy, sunil gavaskar, dhoni army insignia gloves, icc cricket world cup 2019, icc, एमएस धोनी, धोनी बलिदान ग्‍लव्‍स, सुनील गावस्‍कर, क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019, आईसीसी

सुनील गावस्‍कर.

कल को किसी दूसरे देश ने ऐसा किया तो… 
गावस्‍कर ने इंडिया टुडे से कहा, ‘यदि धोनी को वे ग्‍लव्‍स पहनने की अनुमति दी जाती है तो दूसरे देशों के खिलाड़ी भी ऐसा कुछ कर सकते हैं. यदि आप इस तरह की किसी चीज पर आपत्ति है तो फिर ऐसा नियम बनने से पहले कीजिए. एक बार जब नियम बन गए तो फिर आप कुछ नहीं कर सकते.’

उन्‍होंने आगे कहा, ‘नियम किसी वजह से ही बने हैं और उनका पालन किया जाना चाहिए. इसलिए तो वे बने हैं. मोईन अली ने 2014 में एक मामले के समर्थन में एक रिस्‍टबैंड पहना था तो इंग्‍लैंड क्रिकेट बोर्ड ने उन पर जुर्माना लगाया था.’

सोच-समझकर तो बोलो
सुनील गावस्‍कर ने सोशल मीडिया पर हो रही वर्ल्‍ड कप के बहिष्‍कार की मांग पर समाचार चैनल आज तक से कहा, ‘करो, करो करो. जो भी करना है करो. भारत वापस आ जाएगा तो वर्ल्‍ड कप कौन जीतेगा. यह सोचा है कभी. बस बातें करने के लिए बातें करते हो. थोड़ा सोच-समझकर बात करनी चाहिए.’

बीसीसीआई ने नहीं मानी हार
इधर, आईसीसी के फरमान के बाद भी बीसीसीआई ने हार नहीं मानी है. बीसीसीआई और सीओए ने अब इस मामले में आईसीसी को मनाने का फैसला किया है. इसके लिए बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी शनिवार को लंदन पहुंच गए हैं. यहां वह आईसीसी के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात कर धोनी को बलिदान बैज वाले ग्लव्स पहनने की अनुमति देने को राजी करेंगे.

धोनी ने फिर पहने ‘बलिदान ग्लव्स’ तो आखिर क्या सजा देगा ICC?
इमरान की नसीहत, भारत पर छींटाकशी के बजाय खेल पर ध्यान दें पाक खिलाड़ी
ICC World Cup : धोनी ‘बलिदान’ ग्‍लव्‍स उतारने को राजी, कहा-नियमों के खिलाफ नहीं जाऊंगा
धोनी ग्‍लव्‍स विवाद: इन दिग्‍गज सितारों ने किया समर्थन, भूटिया बोले- नियम माने माही
टीम इंडिया के आर्मी कैप पहनने का बदला वर्ल्ड कप में लेना चाहती है पाकिस्तानी टीम!
Exclusive: ग्‍लव्‍स विवाद पर रैना का धोनी को सपोर्ट, बोले- मैदान में तो नमाज भी होती है
क्‍या है धोनी के ग्‍लव्‍स पर लिखे बलिदान का मतलब और पैरा स्‍पेशल फोर्सेज की कहानी
क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here