National News

Mobile Blast In Nanded Maharashtra : Duplicate Battery Mobile Phone Blast In 8 Years Child Hand | Alert : फोन पर गेम खेल रहा था 8 साल का बच्चा, तभी हो गया उसमें ब्लास्ट और हाथ से अलग हो गईं उंगलियां; पिता ने फोन खरीदने में की थी ये बड़ी गलती


न्यूज डेस्क। 8 साल के बच्चे के हाथ में मोबाइल फटने का मामला सामने आया है। घटना नादेड़ (महाराष्ट्र) जिले के मुखेड की है। इस हादसे में बच्चे के हाथ की उंगलिया अलग हो गईं। बता दें कि बच्चे के पिता श्रीपत जाधव ने टीवी पर विज्ञापन देखने के बाद IKall K72 फीचर फोन मंगाए थे। 1500 रुपए में ऐसे तीन फोन के साथ एक घड़ी भी मिली थी। इस फोन की अमेजन पर कीमत सिर्फ 309 रुपए है।

ऐसे हुआ था हादसा

8 साल का प्रशांत IKall K72 फोन पर गेम खेल रहा था। अचानक फोन में ब्लास्ट हो गया और प्रशांत के हाथ बुरी तरह जख्मी हो गया और हाथ से उंगलियां अलग हो गईं। इस हादसे के बारे में हमने मुंबई के आईटी एक्सपर्ट मंगलेश एलिया से बात की। उन्होंने कई ऐसी बातें बताई जिसके चलते फोन में ब्लास्ट होने की कंडीशन बन जाती है।

1. मंगलेश के मुताबिक ऑनलाइन मिलने वाले सस्ते फोन की बिल्ट क्वालिटी बेहद खराब होती है। ऐसे फोन में यूज होने वाला हार्डवेयर मटेरियल जैसे मदरबोर्ड, रैम, मेमोरी, बैटरी के मेकिंग पैरमीटर्स पूरी नहीं होते। कम पैसे में प्रोडक्ट तैयार करने के चलते ऐसा किया जाता है। इस वजह से ये प्रोडक्ट कई बार खतरनाक साबित होते हैं।

2. यदि फोन बैटरी की बिल्ट क्वालिटी खराब है तब वो यूज और चार्जिंग के दौरान तेजी से गर्म होती है। इस तरह की बैटरी फूलने भी लगती है। एक समय के बाद जब इन्हें चार्जिंग पर लगाया जाता है तब पावर को कंट्रोल नहीं कर पातीं। जिस वजह से इसमें ब्लास्ट होने के चांसेस बड़ जाते हैं।

3. यदि आपके फोन की मेमोरी और रैम कम है। साथ ही, उसकी मेमोरी फुल है, तब यूज के दौरान गर्म होगा। फोन जब यूज किया जाता है तब टेम्परेरी फाइल क्रिएट होती हैं। जब इन फाइल को स्पेस नहीं मिलता तब फोन हैंग होता है, साथ ही बैटरी पर भी इसका लोड आता है।

बैटरी फटने के हो सकते हैं ये 3 संकेत

1. फोन की स्क्रीन का ब्लर होना या स्क्रीन में पूरी तरह डार्कनेस आ जाना।

2. फोन बार-बार हैंग होना और प्रोसेसिंग स्लो हो जाना।

3. बात करते वक्त फोन नॉर्मल से ज्यादा गर्म होना।

खराब बैटरी को कैसे चेक करें

1. बैटरी को एक टेबल पर रखें। फिर घुमाकर देखें। यदि बैटरी फूली हुई है तो तेज घूमेगी। इसे यूज न करें।

2. वहीं जिन स्मार्टफोन में इनबिल्ट बैटरी होती है, उन्हें हीट से ही पहचाना जा सकता है। फोन गरम हो रहा है तो चेक करवाएं।

3. कभी भी बैटरी को पूरा खत्म न होने दें। पूरी बैटरी खत्म होने पर चार्जिंग में ज्यादा पावर लगता है। इससे भी ब्लास्ट हो सकता है। 20 परसेंट बैटरी रहते हुए ही फोन को चार्ज करना सही होता है।

इन गलतियों से भी बचें

1. फेक चार्जर, फेक बैटरी का यूज कभी न करें। जिस ब्रांड का फोन यूज कर रहे हैं, उसी का चार्जर यूज करें।

2. पीन में भीगे फोन को चार्जिंग पर न लगाएं। फोन चार्ज करते वक्त उसका यूज न करें।

3. बैटरी डैमेज हो गई है तो उसे तुरंत फ्रेश बैटरी से एक्सचेंज कर दें।

4. एक्स्ट्रीम टेम्प्रेचर में फोन को न रखें।

5. मोबाइल को 100% चार्ज न करें। अगर आप 100% चार्ज करते हैं तो इससे बैटरी खराब होने का खतरा बढ़ जाता है। मोबाइल की बैटरी 80 से 85% तक चार्ज करना सही माना जाता है।

6. पूरी रात मोबाइल चार्जिंग पर लगाकर छोड़ देने से बैटरी जल्दी खराब होने लगती है। इसका पूरे मोबाइल की परफॉर्मेंस पर भी बुरा असर पड़ सकता है।

7. मोबाइल को ओरिजिनल चार्जर से चार्ज न करने से मोबाइल की बैटरी धीरे-धीरे खराब होने लगती है। साथ ही चार्जिंग स्पीड भी काफी स्लो होती है।

8. मोबाइल की बैटरी 20% से कम होने के पहले ही बार-बार चार्जिंग पर लगा देने से बैटरी जल्दी खराब होने का खतरा बढ़ जाता है। कोशिश करें कि मोबाइल की बैटरी 20% से कम होने पर ही चार्जिंग पर लगाएं।

9. मोबाइल को किसी भी गर्म जगह पर रखकर चार्ज करने से बैटरी तेजी से गर्म होने लगती है। ऐसा बार-बार करने से बैटरी और मोबाइल जल्दी खराब होने की आशंका बढ़ जाती है।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.