Home National News Jeans, skirts ban in Vijayawada’s Sri Durga Malleswara Swamy temple from New...

Jeans, skirts ban in Vijayawada’s Sri Durga Malleswara Swamy temple from New Year 2019 | विजयवाड़ा के मंदिर में नए साल से लड़कियों के जींस में आने पर रोक, सिर्फ साड़ी में मिलेगी एंट्री

4
0


  • दुर्गा मंदिर में पुरुष श्रद्धालुओं के लिए छोटे कपड़े और महिलाओं के लिए स्कर्ट-जींस पहनकर आने पर रोक
  • मंदिर प्रशासन खुद महिलाओं को 100 रुपए में साड़ी उपलब्ध कराएगा
  • ड्रेस कोड के इस नए नियम के पालन के लिए मंदिर परिसर में ड्रेस चेंजिंग रूम की व्यवस्था भी की गई

Dainik Bhaskar

Dec 31, 2018, 05:38 PM IST

विजयवाड़ा. आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में स्थित श्री दुर्गा मलेश्वर स्वामी मंदिर में नए साल से नया ड्रेस कोड लागू होने वाला है। एक जनवरी से मंदिर में जींस पहनकर आने वाली युवतियों को एंट्री नहीं दी जाएगी। हिंदू परंपरा के अनुसार युवतियों-महिलाओं को सिर्फ साड़ी में ही मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा।

हिंदू मान्यता के कपड़ों में ही मिलेगी एंट्री

  1. मंदिर की एग्जिक्युटिव ऑफिसर कोटेश्वरम ने बताया, पुरुष श्रद्धालुओं के लिए छोटे कपड़े और महिलाओं के लिए स्कर्ट और जींस पहनकर मंदिर में आने पर रोक लगाई गई है। उन्होंने कहा, यदि देवी कनक दुर्गा के दर्शन करना है, तो हिंदू परंपरा के अनुसार ही कपड़े पहनकर आना होगा, चाहें वे किसी भी मान्यता को मानती हों।


  2. नए साल पर लाखों श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद

    मंदिर अथॉरिटी ने उम्मीद जताई है कि नए साल के लिए मंदिर में दर्शन के लिए लाखों की संख्या में श्रध्दालु आएंगे। ऐसे में ड्रेस कोड के इस नए नियम के पालन के लिए ड्रेस चेंजिंग रूम की व्यवस्था भी की गई है। कोटेश्वरम ने कहा कि मंदिर प्रशासन खुद महिलाओं को 100 रुपए में साड़ी उपलब्ध कराएगा।


  3. भारतीय संस्कृति के खिलाफ है जींस और स्कर्ट

    कोटेश्वरम ने बताया, मंदिर में माहौल सही रखने और हिंदू संस्कृति को आचरण में लाने के लिए ड्रेस कोड का यह नियम लाया गया है। जींस और स्कर्ट विदेशी संस्कृति को दर्शाता है। उन्होंने श्रद्धालुओं से अपील की है कि वे मंदिर अथॉरिटी का सहयोग करें।

  4. एथेस्ट सेंटर के निदेशक जी विजयं ने मंदिर अथॉरिटी के इस फैसले से असहमति जताई। उन्होेंने कहा कि यह लोगों की आजादी और व्यक्तिगत पसंद के खिलाफ है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.