International News

Interesting Facts About UPSC IAS Exam | जिस परीक्षा से बनते हैं पुलिस, प्रशासन और विदेश में आला अफसर जानिए उससे जुड़ी जरूरी बातें : 21 से 32 साल का कोई भी कैंडीडेट इसमें हो सकता है शामिल, एक, दो नहीं बल्कि सफल होने के लिए मिलते हैं 6 मौके


न्यूज डेस्क। यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) हर साल सिविल सर्विसेज एग्जामिनेशन (CSE) आयोजित करता है। हजारों-लाखों कैंडीडेट्स IAS, IPS, IFS अफसर बनने का सपना देखते हैं। जानिए सिविल सर्विसेज एग्जामिनेशन से जुड़ी काम की बातें।

अलग-अलग सब्जेक्ट्स होते हैं

– UPSC CSE का सिलेबस ऐसा है, जिसमें आपको कई सब्जेक्ट्स को पढ़ने का मौका मिलता है। जैसे हिस्ट्री, जियोग्राफी, इकोनॉमिक्स, पॉलिटी, पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन, साइंस एंड टेक्नोलॉजी, लैंग्वेज, करेंट अफेयर्स आदि।

– इसलिए CSE की जो तैयारी करता है, वह नेशनल लेवल के अलग-अलग एग्जाम्स और राज्यों के एग्जाम में भी शामिल हो सकता है।

– पीएससी, एसएससी, इंश्योरेंस सेक्टर के साथ ही सीएपीएफ एग्जाम्स में भी आप अपीयर हो सकते हैं।

6 बार तक शामिल हो सकते हैं

– यूपीएससी सीएसई एग्जाम सबसे ज्यादा पॉपुलर इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (IAS) के लिए है। यह एग्जाम करीब 24 सिविल सर्विसेज पोस्ट के लिए आयोजित होती है।

– इसमें इंडियन फॉरेन सर्विस, इंडियन पुलिस सर्विस, इंडियन रेवेन्यू सर्विस आदि शामिल हैं।

– सिविल सर्विसेज एग्जाम में एक कैंडीडेट अधिकतम 6 बार ही शामिल हो सकता है।

अलग-अलग बैंकग्राउंड के कैंडीडेट्स हो सकते शामिल

– यूपीएसससी सीएसई में अलग-अलग बैकग्राउंड के कैंडीडेट अपीयर हो सकते हैं। आईएएस, आईएफएस और आईपीएस के लिए कैंडीडेट का भारतीय नागरिक होना जरूरी है।

– ग्रैजुएशन भी पूरा होना चाहिए। फाइनल इयर वाले कैंडीडेट भी अप्लाई कर सकते हैं।

– कैंडीडेट की उम्र 21 से 32 साल के बीच होना चाहिए। आरक्षण के हिसाब से उम्र में छूट भी मिलती है।

– सीएसई प्रीपरेशन के दौरान मैन्स के लिए सही सब्जेक्ट का चुनाव करना काफी महत्वपूर्ण होता है। ऑप्शनल सब्जेक्ट के ढेरों ऑप्शन कैंडीडेट्स को मिलते हैं। लिटरेचर के अलावा 25 ऑप्शनल सब्जेक्ट होते हैं।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment