National News

Chennai Driver saves passengers by timely stopping bus | पैसेंजर्स से भरी बस लेकर जा रहा था ड्राइवर, बीच रास्ते में ही आ गया हार्ट अटैक, बिगड़ने लगी तबीयत, पर भयानक दर्द में भी नहीं भूला जिम्मेदारी


चेन्नई. तमिलनाडु में एक बस ड्राइवर अपनी सूझबूझ को लेकर खबरों में है। वो 30 लोगों की जान बचाकर दुनिया के लिए मसीहा बन गया है। ड्राइवर जब यात्रियों से भरी बस लेकर जा रहा था, तभी उसे दिल का दौरा पड़ गया। ऐसे वक्त में भी उसने खुद से पहले बस में बैठे पैसेंजर्स की परवाह की और बेहोश होने से पहले बस को सड़क के किनारे लगाने में कामयाब रहा। ऐसे में पैसेंजर्स हादासे के शिकार होने से बत गए। हालांकि, ड्राइवर ने दम तोड़ दिया।

बचाई 30 पैसेंजर्स की जान

– घटना नेरकुंदरम शहर की है, जहां 55 साल के एल रमेश सोमवार की सुबह स्टेट ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन की बस लेकर वेल्लोर के तिरुपत्तूर से चेन्नई जा रहे थे।

– इसी दौरान रमेश को हार्ट अटैक आ गया, पर इस हाल में भी वो कंडक्टर को अलर्ट करना नहीं भूले और बस को किनारे लगाने की कोशिश में जुट गए।

– ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के अफसरों के मुताबिक, ड्राइवर को खुद से ज्यादा चिंता बस में सवार 30 पैसेंजर्स की थी। वो इस हाल में भी कंडक्टर के साथ मिलकर बस को किनारे लगाने में कामयाब रहा।

अस्पताल पहुंचने तक तोड़ा दम

– रिपोर्ट्स के मुताबिक, बस को सड़क के किनारे लगाते ही रमेश बेहोश होकर गिर पड़े। इसे बाद उन्हें जब हॉस्पिटल ले जाया गया, तो वहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

– अब बस में सवार पैसेंजर्स और कंडक्टर ने ड्राइवर की सूझबूझ की तारीफ कर रहे हैं। उनका कहना है कि रमेश ने बस और उसमें पैसेंजर्स को सुरक्षित करने के लिए गजब की तेजी दिखाई, जबकि वो खुद भयानक दर्द में थे।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.