Business Round up:Loss May Occur Due to Low Tax Collection Says Devangshu Dutta | टैक्स कलेक्शन लक्ष्य से कम होने से घाटा बढ़ने का अंदेशा

0
13


देवांग्शु दत्ता

देवांग्शु दत्ता

Apr 08, 2019, 08:26 AM IST

अमेरिका-चीन व्यापार वार्ता में प्रगति हुई है, लेकिन भारत-अमेरिका के बीच बातचीत रुकी हुई है। डोनाल्ड ट्रंप ने फिर कहा है कि भारत सबसे ज्यादा टैरिफ वाला देश है। ब्रेक्जिट को लेकर अब भी कन्फ्यूजन है। इसकी तारीख और आगे बढ़ सकती है। लीबिया और वेनेजुएला में हिंसा के चलते कच्चे तेल के दाम फिर 70 डॉलर प्रति बैरल से अधिक हो गए। यह 2019 में तेल की सबसे ज्यादा कीमत है। दाम नहीं घटे तो भारत का व्यापार घाटा बढ़ सकता है। यहां डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन संशोधित लक्ष्य से 50,000 करोड़ और जीएसटी कलेक्शन 46,000 करोड़ रुपए कम रहा है। इससे सरकार का घाटा 3.4% के लक्ष्य से अधिक हो सकता है। 

 

नतीजे इस हफ्ते से, इन्फोसिस और टीसीएस के रिजल्ट शुक्रवार को 

आम चुनाव के पहले चरण की वोटिंग गुरुवार को होगी। वोटिंग प्रतिशत, जमीनी हालात और नई सरकार को लेकर चर्चाओं से इन्वेस्टर का सेंटिमेंट प्रभावित होगा। जनवरी-मार्च तिमाही के साथ पूरे 2018-19 के नतीजे इसी हफ्ते आने शुरू हो जाएंगे। टीसीएस और इन्फोसिस, दोनों शुक्रवार को नतीजे जारी करेंगी। 

 

आरबीआई इस महीने 35,000 करोड़ मूल्य के डॉलर खरीदेगा 

रिजर्व बैंक ने रेपो रेट 0.25% घटा दिया है। लेकिन बैंकों के कर्ज पर ब्याज को रेपो रेट जैसे बाहरी बेंचमार्क से जोड़ने का फैसला फिलहाल टाल दिया है। पॉलिसी दरें घटने के बाद भी बैंक ब्याज घटाने से बच सकते हैं। आरबीआई नकदी बढ़ाने के लिए इसी महीने 35,000 करोड़ के डॉलर खरीदेगा। 

 

आरबीआई का आदेश रद्द होने से बिजली कंपनियों को राहत 

सुप्रीम कोर्ट ने बैंक कर्ज डिफॉल्ट करने वाली बिजली, शिपिंग और चीनी कंपनियों को बड़ी राहत दी है। इसने 12 फरवरी 2018 के रिजर्व बैंक के आदेश को रद्द कर दिया है। इस आदेश के मुताबिक 2,000 करोड़ रु. का कर्ज अगर एक दिन भी डिफॉल्ट हुआ तो बैंकों को उसके खिलाफ दिवालिया कार्रवाई शुरू करनी थी। निजी बिजली कंपनियों के संगठन एपीपी और कई कंपनियों ने अगस्त 2018 में इसे चुनौती दी थी। वित्त मंत्रालय ने संकट में फंसे 34 थर्मल पावर प्रोजेक्ट की पहचान की थी। इनमें से सिर्फ जेपी एसोसिएट्स के प्रोजेक्ट को खरीदार मिला था। 

 

सामान्य से कम बारिश का अंदेशा, कृषि विकास दर आधी होगी 

स्काईमेट ने मानसून में सामान्य से कम बारिश का अंदेशा जताया है। इससे विकास दर प्रभावित हो सकती है। स्काईमेट के अनुसार बारिश औसत के 93% तक रहेगी। औसत के 96-104% तक को सामान्य कहा जाता है। सूखे की आशंका 15% है। स्काईमेट ने फरवरी में सामान्य मानसून का अनुमान जताया था। लेकिन अल नीनो प्रभाव के कारण इसे बदला है। जून-जुलाई में कम और अगस्त-सितंबर में अच्छी बारिश होगी। इससे खेती की विकास दर 2.7% रहने के आसार हैं। 2018-19 में यह 5% थी। 

 
आईएलएंडएफएस ग्रुप की 55 कंपनियों के एसेट बेचे जाएंगे 

आईएलएंडएफएस में सरकार द्वारा नियुक्त बोर्ड ने स्टेटस रिपोर्ट दी है। यह ग्रुप की 55 कंपनियों के एसेट बेचकर पैसे जुटा रहा है। अक्षय ऊर्जा की 11 कंपनियों के लिए मार्च में बोली मिली हैं। सितंबर 2018 में ग्रुप पर 99,354 करोड़ रु. का कर्ज था। इसमें 48,470 करोड़ का कर्ज आईफिन समेत ग्रुप की चार कंपनियों पर है। दिसंबर 2018 में आईफिन का ग्रॉस एनपीए 90% हो गया जो मार्च 2018 में 5.3% था। ग्रुप की नेटवर्थ निगेटिव हो गई है।

 
देवांग्शु दत्ता, कंट्रीब्यूटिंग एडिटर, बिजनेस स्टैंडर्ड





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here