BCCI से कभी कोई निर्देश नहीं मिला कि क्या कहना है: गावस्कर- BCCI never got any direction from what to say: Gavaskar

0
7


BCCI से कभी कोई निर्देश नहीं मिला कि क्या कहना है: गावस्कर

BCCI से कभी कोई निर्देश नहीं मिला कि क्या कहना है: गावस्कर

News18Hindi

Updated: June 17, 2019, 9:35 AM IST

ICC वर्ल्ड कप 2019 का आगाज होने के साथ जैसे-जैसे खेल बढ़ रहा है वैसे-वैसे इसके साथ विवाद भी जुड़ने लगा है. मैच बढ़ने के साथ ही मैदान में खराब अम्पायरिंग को लेकर सवाल उठने लगे हैं. ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच खेले गए मैच के दौरान कई बार खबरा अम्पायरिंग देखने को मिली. विवाद बढ़ने के साथ ही क्रिकेट के महान खिलाड़ी माइकल होल्डिंग ने भी इसकी आलोचना की है. माइकल होल्डिंग की ओर से इस तरह टीवी पर की गई आलोचना पर मैचों का प्रसारण कर रही कंपनी सनसेट एंड विन एशिया के हुव बेवन ने माइकल होल्डिंग को एक ईमेल भेजा है. इस मेल में उन्‍होंने होल्डिंग को टूर्नामेंट की कवरेज के दौरान खेल की मर्यादा और उसके उच्‍चतम मानकों को बनाए रखने की सलाह दी है. माइकल होल्डिंग को मिले ई-मेल के बाद अब भारत के पूर्व महान खिलाड़ी सुनील गावस्कर ने कहा है कि बीसीसीआई की ओर से उन्हें कभी कोई निर्देश नहीं मिला कि उन्हें क्या बोलना है.

सुनील गावस्कर ने कहा कि मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि बीसीसीआई ने मुझे या रवि शास्त्री को कभी भी कोई निर्देश नहीं दिया है कि क्या कहना है और क्या नहीं. उन्होंने कहा कि अगर इस संबंध में किसी अन्य को कोई जानकारी मिली है तो हम बता नहीं सकते. रवि और मुझे वार्षिक आधार पर बीसीसीआई से अनुबंधित किया है लेकिन इसके साथ कोई निर्देश नहीं दिया गया है.

इसे भी पढ़ें :- INDvPAK: विश्व कप में भारत ने लगातार 7वीं बार पाकिस्तान को रौंदा, 89 रनों से दर्ज की जीत

गावस्कर ने कहा कि कमेंट्री में बैठे लोगों को तब तक अपने विचार रखने की छूट होनी चाहिए जब तक कि किसी खिलाड़ी को उससे किसी तरह का नुकसान न हो. मैच के दौरान खराब अम्पायरिंग या शॉट खेलने के दौरान अगर कमेंटेटर कोई बात ऐसी बोल जाता है तो उस पर विवाद नहीं पैदा करना चाहिए.इसे भी पढ़ें :-INDvPAK: विराट कोहली ने की बड़ी भूल, ड्रेसिंग रूम में धोनी के पीछे दिखाया गुस्‍सा

गौरतलब है कि ट्रेंट ब्रिज में गुरुवार को हुए मैच में अम्पायरों ने कई गलतियां की और वेस्टइंडीज 15 रनों से मुकाबला हार गया. मैदान पर मौजूद अम्पायर क्रिस गैफनी और रुचिरा पल्लियागुर्गे ने दो-दो निर्णय ऐसे दिए जिसे बदला गया. मिशेल स्टार्क ने मुकाबले में क्रिस गेल को आउट किया. हालांकि, वह गेंद नो बॉल थी लेकिन गैफनी ने सही निर्णय नहीं लिया.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here