Bank frauds in the past 11 years: 2008-09 and 2018-19 fiscal years, ICICI Bank, SBI and HDFC report maximum cases | 11 सालों में बैंकों के साथ 2.05 लाख करोड़ रुपए की धोखाधड़ी: रिपोर्ट

0
4


  • सबसे ज्यादा मामले आईसीआईसीआई, एसबीआई और एचडीएफसी बैंक के दर्ज
  • आरटीआई के अंतर्गत दी गई जानकारी के आधार पर हुआ खुलासा
  • कुछ विदेशी बैंक भी धोखाधड़ी का शिकार, करोड़ों रुपए का नुकसान

नई दिल्ली. भारत में पिछले 11 वित्तीय वर्षों में बैंकों को 50 हजार से ज्यादा धोखाधड़ी के मामलों का सामना करना पड़ा है। आरबीआई ने एक आरटीआई के जवाब में बताया कि धोखाधड़ी के सबसे ज्यादा मामले आईसीआईसीआई, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और एचडीएफसी बैंकों में दर्ज हुए। 2008-09 से 2018-19 के बीच बैंकों में धोखाधड़ी के मामलों की संख्या 53,334 है। इनसे बैंकों को 2.05 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। 

 












धोखाधड़ी के शिकार टॉप-10 बैंक कितने मामले कितने रुपए की धोखाधड़ी
आईसीआईसीआई बैंक 6,811 5,033.81 करोड़ रु. 
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 6,793  23,734.74 करोड़ रु.
एचडीएफसी बैंक 2,497 1200.79 करोड़ रु.
बैंक ऑफ बड़ौदा 2,160 12,962.96 करोड़ रु.
पंजाब नेशनल बैंक  2,047  28,700.74 करोड़ रु.
एक्सिस बैंक  1,944 5,301.69 करोड़ रु.
बैंक ऑफ इंडिया  1,872  12,358.2 करोड़ रु.
सिंडिकेट बैंक 1,783 5,830.85 करोड़ रु.
सेंट्रल बैंक 1,613 9,041.98 करोड़ रु.
आईडीबीआई बैंक 1,264 5,978.96 करोड़ रु.

 

कुछ विदेशी बैंक भी पिछले 11 सालों में धोखाधड़ी का शिकार हुए। इसमें बैंकों को करोड़ों रुपए का नुकसान उठाना पड़ा।  

 





धोखाधड़ी के शिकार टॉप-3 बैंक कितने मामले कितने रुपए की धोखाधड़ी
अमेरिकन एक्सप्रेस बैंक  1,182 86.21 करोड़ रु.
सिटी बैंक 1,764 578.09 करोड़ रु.
एचएसबीसी बैंक 1,173 312.1 करोड़ रु.

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here