350 tonne temple moves for Madurai-Natham elevated highway | ब्रिज के लिए 350 टन वजनी 21 साल पुराना मंदिर बिना तोड़े 25 फीट खिसकाया जा रहा

0
9


  • 4 हजार वर्गफीट में बना मंदिर 25 फीट ऊंचा है
  • मंदिर को हटाने में 22 लाख रुपर खर्च होंगे, अब तक 3 फीट शिफ्ट किया गया 
  • खिसकाने के लिए 350 बड़े जैक का इस्तेमाल किया जा रहा है

मदुरै.  तमिलनाडु के नारायणपुरम में मदुरै-नाथम एलिवेटेड हाईवे का काम चल रहा है। यहां एक फ्लाईओवर बनना है। लेकिन रास्ते में 21 साल पुराने मंदिर के कारण काम रुक गया है। पहले इस मंदिर को तोड़ा जाना था। लेकिन अब 350 टन वजनी मंदिर को बिना तोड़े 25 फीट खिसकाया जा रहा है। इसे खिसकाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

नेपाल, हरियाणा और बिहार से आई टीमें काम कर रहीं

  1. नेपाल, हरियाणा और बिहार से आई टीम इसे खिसकाने का काम कर रही हैं। मंदिर के पुजारी ए दामोदरन ने बताया- मंदिर के 15 फीट हिस्से को तोड़ने की बात कही गई थी। लेकिन कमेटी ने अनुमान लगाया कि इसे तोड़कर फिर से बनाने में लगभग 1.2 करोड़ का खर्च आएगा।


     


    www

     

  2. इंजीनियर धर्मालिंगम ने कहा- यह मंदिर 4,225 वर्ग फीट में बना है। मंदिर के शिखर को मिलाकर इसकी ऊंचाई 25 फीट है। उन्होंने बताया कि इस मंदिर के लिए बगल में ही दूसरी जगह तैयार की गई है, जहां मंदिर को शिफ्ट किया जा रहा है। मंदिर शिफ्ट करने में 22 लाख रुपए खर्च होगा। मंदिर को उठाने के लिए 350 जैक लगाए गए हैं। 

  3. शुक्रवार को सुबह 10:30 बजे मंदिर को खिसकाने की प्रक्रिया शुरू हुई। इस दौरान तीन घंटे में उसे तीन फीट ही खिसकाया जा सका। हालांकि, मंदिर को 15 फीट हटाने की जरूरत है। लेकिन भविष्य में हाईवे के किसी अन्य काम की संभावना को देखते हुए मंदिर प्रशासन ने इसे 25 फीट खिसकाने का फैसला लिया है। मुख्य भाग के बाद तीन छोटे मंदिरों को भी शिफ्ट किया जाएगा। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here