होम्‍योपैथ दवाओं से भी हो सकता है नुकसान, इन बातों का रखे ख्‍याल | disadvantage with homeopathy?

0
11


बहुत धीरे-धीरे करती है असर

बहुत धीरे-धीरे करती है असर

होम्‍योपैथि‍क दवाओं का सबसे बड़ा नुकसान यह है, कि किसी आपातकाल स्थि‍ति के समय यह दवाएं आपके किसी काम की नहीं है, क्योंकि यह धीरे-धीरे असर करती हैं। सर्जरी या अन्य स्थि‍यों में, जब मरीज को तुरंत इलाज की आवश्यकता होती है, तब होम्‍योपैथि‍क आपकी कोई मदद नहीं कर सकती।

एनिमिया और आयरन की समस्‍या का हल नहीं

एनिमिया और आयरन की समस्‍या का हल नहीं

होम्‍योपैथि‍क दवाईयां पोषण संबंधी समस्या या पोषण की कमी होने की स्थि‍ति में बिल्कुल भी प्रभावकारी नहीं होती। उदाहरण के तौर पर एनिमिया या आयरन की कमी और अन्य तत्वों की कमी होने पर होम्‍योपैथि‍क बेअसर साबि‍त होता है। इन कमियों को सिर्फ डाइट या सप्लीमेंट के माध्यम से ही पूरा किया जा सकता है।

 हो सकता है इंफेक्‍शन

हो सकता है इंफेक्‍शन

इन दवाईयों का एक साइड इफेक्ट यह भी है कि डॉक्टर द्वारा दी गई दवाईयों का सेवन अगर निश्चित समय सीमा से अधि‍क समय तक किया जाए, तो इसका ओवर डोज लेना आपके लिए हानिकारक भी हो सकता है। इससे पेट में इंफेक्शन और अन्य परेशानियां भी हो सकती हैं।

परहेज करना होता है

परहेज करना होता है

होम्‍योपैथिक दवाईयों के सेवन से पहले और बाद में कई तरह का परहेज करना होता है। जैसे इसके आधे घंटे तक आप कुछ भी खा पी नहीं सकते हैं। ऑयली और खट्टी चीजों का सेवन नहीं करना चाह‍िए। लेकिन थोड़ी सी भी लापरवाही के चलते इस दवा के फायदों के जगह नुकसान पहुंच सकता है।

 गंभीर समस्‍याएं हो सकती है

गंभीर समस्‍याएं हो सकती है

होम्‍योपैथि‍क दवाईयों हर किसी पर उतनी ही प्रभावकारी साबित हो, यह जरूरी नहीं है। लंबे समय तक इसके सेवन से अगर आप लाभ महसूस नहीं करते, तो समस्या के गंभीर होने से पहले ही डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

जरुरी नहीं की ये फायदा करें

जरुरी नहीं की ये फायदा करें

कई बार होम्‍योपैथि‍क दवाओं का परामर्श आपके चिकित्सकीय इतिहास और बीमारियों पर भी निर्भर करता है। ऐसा न होने की स्थि‍ति में यह दवाईयां आपको अपेक्षा अनुरूप लाभ नहीं पहुंचा पाएंगी।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here