Home Cricket News हिंदी न्यूज़ – एडिलेड में पलटवार के लिए तैयार टीम इंडिया, धोनी-विराट...

हिंदी न्यूज़ – एडिलेड में पलटवार के लिए तैयार टीम इंडिया, धोनी-विराट ने यूं की तैयारी. Will India claim a series-levelling win in the 2nd ODI

2
0


ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ‘करो या मरो ’ के दूसरे वनडे मैच में भारतीय टीम गुरुवार को उतरेगी तो बीच के ओवरों में रन गति बनाये रखने में नाकाम साबित हो रहे महेंद्र सिंह धोनी की धीमी बल्‍लेबाजी चिंता का सबब होगी.

अनुशासनात्मक कारणों से हार्दिक पंड्या को अचानक टीम से बाहर किये जाने से बल्लेबाजी क्रम का संतुलन बिगड़ गया है. भारत को पहले मैच में रोहित शर्मा के 22वें वनडे शतक के बावजूद 34 रन से पराजय झेलनी पड़ी थी.

धोनी ने 96 गेंद में 51 रन बनाये और वह स्ट्राइक रोटेट नहीं कर सके. उनकी इस धीमी पारी से बल्लेबाजी क्रम में बदलाव की संभावना बनती है. धोनी पांचवें नंबर पर उतरते हैं और उपकप्तान रोहित का मानना है कि उन्हें ऊपर आना चाहिये. भारतीय टीम की प्रैक्टिस को देखकर हालांकि स्पष्ट है कि टीम बल्लेबाजी क्रम में फिलहाल बदलाव नहीं करेगी .

सिडनी क्रिकेट मैदान पर धोनी को पारी के चौथे ओवर में ही उतरना पड़ा जो कम ही होता है. पिछले दो साल से रोहित, शिखर धवन और विराट कोहली का प्रदर्शन इतना अच्छा रहा है कि धोनी को कभी इतनी जल्दी नहीं आना पड़ा .

चौथे नंबर पर धोनी का बल्लेबाजी औसत 52.95 है जो मौजूदा औसत 50.11 से ज्यादा है. पांचवें नंबर पर उनका औसत 50.70 और छठे पर 46. 33 रहा है लेकिन निचले क्रम पर औसत से अधिक स्ट्राइक रेट महत्वपूर्ण होता है. धोनी का चौथे नंबर पर स्ट्राइक रेट 94.21 है जो उनके करियर के स्ट्राइक रेट 87.60 से बेहतर है .

भारत ने ऑस्ट्रेलिया में पिछला वनडे जनवरी 2016 में खेला था जिसमें धोनी ने चौथे नंबर पर दो मैचों में 18 रन बनाये थे. उस सीरीज के बाद से धोनी ने आठ वनडे में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की है. उनका औसत 24.75 रहा जबकि स्ट्राइक रेट 77.34 रहा है.

दूसरे वनडे से पहले संभावित टीम का ऐलान नहीं किया गया है. हरफनमौला विजय शंकर दोपहर देर से पहुंचे और चयन के लिये संभवत: उपलब्ध नहीं होंगे.

हार्दिक की गैर मौजूदगी में टीम का संतुलन बनाये रखना बड़ी चुनौती होगा. एशिया कप और वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में वह चोट के कारण बाहर था तब उपमहाद्वीप में तीन स्पिनरों को उतारने का फायदा मिला. विदेश में उसके नहीं होने का टीम के प्रदर्शन पर असर पड़ेगा.

संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन की शिकायत के बावजूद अंबाती रायडू अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी कर सकते हैं. अब देखना यह है कि टीम प्रबंधन क्या करता है. केदार जाधव विकल्प हो सकते हैं और दिनेश कार्तिक ही जगह उन्हें मौका दिया जा सकता है.

पहले वनडे में गेंदबाजी संयोजन में बदलाव की गुंजाइश कम है हालांकि खलील अहमद फार्म में नहीं है. उन्होंने युजवेंद्र चहल के साथ नेट्स पर गेंदबाजी की.

तीन तेज गेंदबाजों में से मोहम्मद शमी पहले मैच में सबसे प्रभावी रहे और इतने अहम मुकाबले में उन्हें बाहर नहीं रखा जायेगा. टीम प्रबंधन रविंद्र जडेजा के ऑलराउंडर हुनर पर भरोसा कायम रख सकता है और ऐसे में चहल की वापसी संभव नहीं लगती.

भारत के प्रदर्शन का फोकस टॉप तीन बल्लेबाजों पर होगा. कोहली का इस मैदान पर सभी फॉर्मेट्स में औसत 73.44 रहा है और वनडे में उनका औसत 46.66 है. धवन के फार्म पर भी नजरें होगी जो इस सत्र में धोनी और रायडू के अलावा घरेलू क्रिकेट नहीं खेलने वाले तीसरे बल्लेबाज थे.

धोनी टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं जबकि रायडू ने रणजी सत्र शुरू होने से पहले ही फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट को अलविदा कह दिया. धवन रणजी खेलने की बजाय मेलबर्न में परिवार के साथ समय बिता रहे थे.

सिडनी में पहली गेंद पर आउट होने के बाद उनके फार्म पर ऊंगली उठने लगी है. जबकि ऑस्ट्रेलिया ने अभी तक अंतिम एकादश की घोषणा नहीं की है लेकिन टीम में बदलाव की उम्मीद कम ही है.

टीमें :
भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, अंबाती रायडू, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, रविंद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, विजय शंकर, खलील अहमद, मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज.

ऑस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी, उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकोंब, मार्कस स्टोइनिस, ग्लेन मैक्सवेल, नाथन लायन, पीटर सिडल, जे रिचर्डसन, मिशेल मार्श, बिली स्टानलेक, एस्टोन टर्नर, एडम जाम्पा और जेसन बेहरेनडोर्फ.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.