Health Tips

देशभर में मिले 4500 से ज्‍यादा स्‍वाइन फ्लू के मामले, जाने इससे बचने के आसान उपाय | Swine Flu: home remedies for protect yourself from H1N1 virus


लहसुन

लहसुन

रोज सुबह खाली पेट लहसुन की दो कलियां गुनगुने पानी के साथ पीने से भी शरीर को तमाम संक्रमणों से लड़ने में मदद मिलती है।

हल्दी और नमक के गरारे

हल्दी और नमक के गरारे

स्वाइन फ्लू के बचाव के लिए हल्दी और नमक उबालकर गुनगुने पानी से गरारे करने चाहिए। स्वाइन फ्लू के दौरान गर्म पानी से हाथ-पैर धोएं और अधिक से अधिक सफाई रखें।

गिलोय

गिलोय

गिलोय प्रकृति में पाई जाने वाला एक पौधा है जो बेल के रूप में पाया जाता है। इसकी शाखा या तने को पांच तुलसी पत्रों के साथ एक गिलास पानी में 15 से 20 तक उबालें। इस पानी को छानकर इसमें स्‍वादानुसार काली मिर्च, सेंधा नमक या मिश्री मिलाकर इस काढ़े को ठंडा करके पिएं। इससे आपकी प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी और रोगों का सामना करने की ताकत आएगी। अगर गिलोय पौधे के रूप में उपलब्‍ध नहीं है तो कई आयुर्वेदिक कंपनियां गिलोय का पाउडर या गोलियां बेचती हैं उनका इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

तुलसी खाएं

तुलसी खाएं

रोजाना तुलसी के पत्ते पानी से धोकर खाने से आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बनी रहती है और आपके फेफड़े और गला हर तरह के संक्रमण से दूर रहते हैं।

 हल्‍दी वाला दूध

हल्‍दी वाला दूध

जिन लोगों को दूध से एलर्जी नहीं है वे रोज रात को सोने से पहले एक गिलास गर्म या गुनगुने दूध में एक चुटकी हल्‍दी पाउडर डालकर पिएं।

प्राणायाम

प्राणायाम

प्राणायाम या ब्रीदिंग एक्‍सर्साइज नि‍यमित रूप से करने से श्‍वसन तंत्र मजबूत रहता है और फ्लू से जुड़ा कोई भी संक्रमण नहीं होता।

आंवला

आंवला

आंवला में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है। ये शरीर का प्रत‍िरक्षा प्रणाली बढ़ाने के साथ स्‍वाइन फ्लू के खतरे को कम करता है। अगर आंवले का मौसम नहीं है तो इसका चूर्ण या रस भी लिया जा सकता है।

ठंडी और कफ उत्‍पन्‍न करने वाली चीजों से रहे दूर

ठंडी और कफ उत्‍पन्‍न करने वाली चीजों से रहे दूर

रोगियों को दही, शीतलपेय, फ्रिज में रखा बासी भोजन, आईसक्रीम जैसे कफ उत्पन्न करने वाले खाद्य पदार्थों से परहेज करने की सलाह दी जाती है।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.