क्‍या मास्‍टरबेट करने से पुरुष हो जाते है गंजे, जाने सच है या मिथक | Does Self-stimulation cause hair loss? Facts and myths

0
11


हस्‍तमैथुन से होता है हेयरफॉल की वजह

हस्‍तमैथुन से होता है हेयरफॉल की वजह

मास्‍टरबेट को लेकर कई मिथक लोगों के बीच फैलाई हुई है। इनमें से एक है मास्‍टरबेट करने की भ्रांतियां बालों के झड़ने से लेकर आंखों के अंधेपन तक हर चीज से जुड़ी हैं। लेकिन इन मिथकों का कोई वैज्ञानिक समर्थन या प्रमाण नहीं हैं। हस्‍तमैथुन करने से कुछ स्‍वास्‍थ्‍य हानियां होती हैं लेकिन यह किसी भी हानिकारक दुष्‍प्रभावों से संबंधित नहीं हैं। जबकि अध्‍ययन बताते हैं कि हस्‍तमैथुन करना आपके मानसिक और शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है।

Most Read : अटेंशन जेंटलमेन! जब मिलने लगे ये संकेत तो तुरंत बंद कर दे मास्‍टरबेट

 आनुवांशिक समस्‍या की वजह से भी

आनुवांशिक समस्‍या की वजह से भी

पुरुषों में हेयरफॉल की समस्‍या महिलाओं की तुलना में अधिक देखी जाती है। लेकिन इसके पीछे वजह हस्‍तमैथुन नहीं है। समय से पहले बालों का झड़ना मुख्‍य रूप से आनुवंशिकी के कारण होता है। सामान्‍य रूप से प्रतिदन किसी व्‍यक्ति के बाल औसतन 50 से 100 के बीच झड़ते हैं। जबकि इनके स्‍थानों पर नए बाल भी उगते हैं। लेकिन यदि यह चक्र बाधित होता है या आपके बालों के रोम क्षतिग्रस्‍त हो जाते हैं तो नए बाल नहीं उगते हैं। इस तरह से यह केवल बाल झड़ने की समस्‍या बन जाती है। इस समस्‍या का प्रमुख कारण आपके जीन होते हैं। वंशानुगत स्थिति को पुरुष-पैटर्न गंजापन या महिला-पैटर्न गंजापन के रूप में जाना जाता है। पुरुषों में पैटर्न गंजापन जवानी के दौर में जल्‍दी शुरु हो सकता है। समय के पहले बाल झड़ने के अन्‍य कारणों में शामिल हैं।

प्रोटीन की कमी से टूटते है बाल

प्रोटीन की कमी से टूटते है बाल

शरीर में प्रोटीन की काफी भूमिकाएं होती है और बालों को स्‍वस्‍थ बनाएं रखने के ल‍िए प्रोटीन की जरुरत होती है। कई लोगों को लगता है कि टेस्‍टोस्‍टेरोन यानी पुरुषों के सेक्‍स हार्मोन की अधिकता की वजह से भी हेयरफॉल होने लगता है, लेकिन एक बात जान लें कि यौन संबंध बनाने और हस्तमैथुन की वजह से टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ता है लेकिन हर बार ऐसा नहीं होता। टेस्टोस्टेरोन का बढ़ा हुआ स्तर बालों के गिरने का मुख्य कारण नहीं है। बाल टूटने का मुख्‍य कारण डी.एच.टी यानी डीहाईडरोटेस्टोस्टरोन होता है जो बालों के स्‍कैल्‍प को तैलीय बनाते है जिससे हेयरफॉल होने लगता है।

Most Read : जानें, हस्‍तमैथुन से शरीर पर कैसा प्रभाव पड़ता है?

हेयरफॉल के कारण

हेयरफॉल के कारण

– हार्मोनल परिवर्तन

– सिर में होने वाले संक्रमण

– त्‍वचा संबंधी समस्‍याएं

– बालों में अत्‍याधिक खिंचाव

– बालों में कई प्रकार के रासायनिक उत्‍पादों का उपयोग

– कुछ दवाएं और विकिरण उपचार





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here