Health Tips

किन वजहों से किडनी में आ जाती है सूजन, जानिए कारण | What Are the Causes of a Swollen Kidney?


किडनी में सूजन के लक्षण

किडनी में सूजन के लक्षण

– बुखार

– पेशाब करने में दर्द

– भूरा या लाल रंग का पेशाब

– असहनीय और तीव्र दर्द

– पेशाब में अधिक प्रोटीन का होना

– बहुत कम पेशाब का आना

– फेंफड़े में तरल का होना, जिसके कारण खांसी और सांस लेने में दिक्‍कत होना।

– अधिक थकान लगना

– सांसों से बदबू आना

– सूजन और सांस की तकलीफ होना।

किडनी में सूजन आने से क्‍या होता है?

किडनी में सूजन आने से क्‍या होता है?

किडनी की सूजन या नेफ्राइटिस एक ऐसी स्थिति है, जिसमें किडनी की मुख्‍य यून‍िट में सूजन आ जाती है जिसे नेफ्रोन कहा जाता है। इससे खून साफ करने की क्षमता कम हो जाती है।

किडनी में सूजन के कारण

किडनी में सूजन के कारण

संक्रमण की वजह से

किडनी में सूजन आने की वजह गले में खराश या त्वचा में संक्रमण जैसे संक्रमणों के प्रति प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया में कमी के कारण एक्यूट हो सकती है। ज्यादातर मामलों में ऐसे संक्रमण ठीक हो जाते हैं और किडनी में सुधार होता है। किडनी की कई प्राइमरी समस्याओं का प्रभाव ग्लोमेरुलस पर पड़ता है। जैसे पेशाब करनी में दिक्‍कत होती है और किडनी की खून साफ करने की क्षमता कम हो जाती है।

मधुमेह के रोगियों को खतरा

मधुमेह के रोगियों को खतरा

मधुमेह और ल्यूपस और एएनसीए वस्कुल्टिस जैसी कुछ ऑटो इम्युन बीमारियों से पीड़ित लोगों में सेकंडरी ग्लोमेरुलोनेफ्राइटिस यानी किडनी की सूजन जैसी स्थिति बन सकती है। ऐसी स्थितियों में भी समय पर इलाज से किडनी को बचाया जा सकता है।

एंटीबॉयोटिक दवाईयों से

एंटीबॉयोटिक दवाईयों से

कभी-कभी दर्द निवारक या एंटीबायोटिक दवाइयों के दुष्प्रभाव के कारण भी ग्लोमेरुलोनेफ्राइटिस (किडनी में सूजन ) हो सकता है। इसल‍िए कोई भी एंटीबायोटिक दवा से लेने से पहले डॉक्‍टर से जरुर पूछें।

Exercises to removes Kidney Diseases | गुर्दे की बीमारियाँ दूर करता है ये व्यायाम | Boldsky

कब दिखाएं डॉक्‍टर को

कब दिखाएं डॉक्‍टर को

जब पेशाब करते हुए मूत्र में खून दिखाई देता है। या पेशाब का रंग अचानक से बदलकर लाल या भूरा दिखाई दें।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.