Beauty Tips

कहीं जरुरत से ज्‍यादा ब्‍यूटी प्रॉडक्‍ट का इस्‍तेमाल तो नहीं कर रही हैं आप? | Six Signs that you are using the wrong skincare


त्वचा में ड्रायनेस आ जाना

त्वचा में ड्रायनेस आ जाना

कई स्किन केयर प्रॉडक्‍ट में अत्‍यधिक मात्रा में केमिकल मिले हुए होते है। जिसके अधिक इस्तेमाल की वजह से त्‍वचा का प्राकृतिक तेल नष्ट हो जाता है। जिसकी वजह से चेहरा ड्राय बन जाता है। कई स्किन केयर प्रॉडक्‍ट में रेंटिनॉल्स और हाईड्रॉक्सी एसिड होता है जो त्वचा को रूखा बना देते है।

रैशेज हो जाना

रैशेज हो जाना

स्किन केयर प्रोडक्ट्स में एक्रिलेट्स, फ्रेग्नेंस और प्रीजरवेटिव होते हैं जो त्वचा में लाल चकते की समस्‍याएं बढ़ा देता है और जिसकी वजह से चेहरे में खुजली की समस्‍या होने लगती है। और इस वजह से रैशेज की समस्‍या बढ़ जाती है। इसलिए इन प्रोडक्ट्स का अधिक इस्तेमाल नहीं करना चाह‍िए।

त्वचा में जलन होने लगना

त्वचा में जलन होने लगना

त्वचा को एक्सफोलिएट करने के लिए मार्केट में कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स मिलते है। उनमें मौजूद केमिकल की वजह से अक्‍सर चेहरे में सूजन और जलन की समस्‍या होने लगती है।

 मुंहासे होने लगना

मुंहासे होने लगना

वैसे तो हार्मोनल चैंजेज की वजह से मुंहासों की समस्‍या होती है। लेकिन यदि आप अधिक ब्यूटी केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं तो उनमें मौजूद एसिड और रेटिनॉल त्वचा संबंधी समस्या जैसे- पिंपल्स और मुंहासों को बढ़ा देते हैं जिसकी वजह से दर्द महसूस होने लगती है।

टेक्‍सचर में कोई सुधार न होना

टेक्‍सचर में कोई सुधार न होना

लोगों को लगता है कि अधिक ब्यूटी केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना त्वचा में निखार लाता है और खूबसूरत बनाता है और साथ ही त्वचा के टेक्सचर में भी सुधार लाता है, लेकिन ऐसा नहीं है बल्कि इनके इस्तेमाल से त्वचा की समस्या और बढ़ जाती है।

ऑयली स्किन होना

ऑयली स्किन होना

बहुत अधिक मात्रा में स्किन केयर प्रॉडक्‍ट का इस्‍तेमाल करने से चेहरे का मॉश्‍चराइजर लेवल पर फर्क पड़ता है। जिसकी वजह से चेहरा एकदम ऑयली होने लगता है। ऑयली चेहरे से परेशान होकर आप फिर से दूसरे ब्‍यूटी प्रॉडक्‍ट का इस्‍तेमाल करना शुरु कर देंगे जिस वजह से आपका चेहरा जरुरत से ज्‍यादा ड्राय होने लगेगा और आपके चेहरे की नमी के स्‍तर पर असर पड़ेगा।





Source link

About the author

Non Author

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.