अलसी के बीज खाने के फायदे तो मालूम है, इसके नुकसान भी है बड़े | Side Effects of flaxseed

0
4


 आंतों में ब्‍लॉकेज

आंतों में ब्‍लॉकेज

विशेषज्ञों की मानें तो पर्याप्‍त मात्रा में तरल पदार्थ लिए बिना जरूरत से ज्‍यादा अलसी खाने से आंतों में ब्‍लॉकेज आ सकता है। जिन्‍हें पहले से ही इस तरह की श‍िकायत रही है उन्‍हें अलसी के बीज नहीं खाने चाहिए. खासतौर से Scleroderma के मरीजों को इन्‍हें नहीं खाना चाहिए क्‍योंकि इससे भयानक कब्‍ज हो सकता है. हालांकि अलसी के तेल का इस्‍तेमाल Scleroderma के इलाज के लिए किया जाता है।

 अगर प्रेग्‍नेंट होना चाहती हैं

अगर प्रेग्‍नेंट होना चाहती हैं

अलसी के बीज एस्‍ट्रोजन की तरह काम करते हैं और जो महिलाएं रोजाना अलसी के बीज खाती हैं उनके पीरियड साइकिल में बदलाव आ सकता है। इसके अलावा जो महिलाएं हार्मोनल दिक्‍कतों जैसे कि पॉलिसिस्‍टिक ओवरी सिंड्रोम, यूटरिन फायब्रॉयड्स, यूटरिन कैंसर और ओवरी कैंसर से जूझ रही हैं उन्‍हें अलसी को अपनी डाइट में शामिल करते वक्‍त सावधानी बरतनी चाहिए। ज्‍यादा मात्रा में अलसी खाने से इन दिक्‍कतों की वजह से बांझपन का खतरा बढ़ सकता है।

Most Read : पनीर बनाने के अलावा कमाल की चीज है फटा हुआ दूध, कई बीमारियों को रखे दूर

 एलर्जी

एलर्जी

ज्‍यादा अलसी खाने वाले कुछ लोग एलर्जी की श‍िकायत कर चुके हैं। ज्‍यादा अलसी खाने से सांस लेने में रुकावट, लो ब्‍लड प्रेशर और तीव्रग्राहिता जैसे एलर्जिक रिएक्‍शन हो सकते हैं। यही नहीं घबराहट, पेट में दर्द और उल्‍टी की श‍िकायत भी हो सकती है।

दस्‍त की समस्‍या

दस्‍त की समस्‍या

वैसे तो कब्‍ज की समस्‍या होने से अलसी का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। लेकिन अधिक सेवन करने से दस्‍त हो सकता है।

Most Read : फायदे ही नहीं कड़वे करेले खाने से होते है खतरनाक नुकसान, जाने किन लोगों को नहीं खाना चाह‍िए करेला

इन बातों का रखें ध्यान :

इन बातों का रखें ध्यान :

– अलसी को पीसकर अधिक समय तक न रखें। इससे इसके खराब होने का डर रहता है।

– जिन लोगों को अलसी खाने से कब्ज की प्रॉब्लम रहती हैं, उन्हें गर्म पानी के साथ अलसी खाना चाहिए।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here